शनि बुरा है या अच्छा यह कैसे जाने? 

शनि बुरा है या अच्छा यह कैसे जाने? 

शनि को नव ग्रह में सबसे तेज बताया गया है।  शनि के बुरा प्रभाव से लोगो का जीवन नरक बन जाता है।  जिस किसी की कुंडली में शनि का बुरा असर रहता है।  उनको कई तरह की समस्या का सामना करना पड़ता है।

शनि का नाम सुनते ही लोग बेवजह भयभीत हो जाते है।  और जिन लोगो की कुंडली नहीं होती है उनके मन में सबसे बड़ा प्रश्न होता है की शनि के अनुकूल और प्रतिकूल को कैसे जाने।

शनि की प्रतिकूल अवस्था हमारी दिनचर्या को भी प्रभावित करती है, जिसे हम ध्यान रख कर जान सकते है की यह प्रतिकूल तो नहीं है । नीचे शनि के प्रतिकूल और अनुकूल से होने वाले  प्रभाव दिया है। जिससे आप पता लगा सकते है की शनि अनुकूल है या नहीं।

 

(1) यदि शरीर में हमेशा थकान व आलस भरा लगने लगे। कोई भी काम करने में मन नहीं लगे और काम के प्रति उत्साह ख़त्म होने लगे।

(2) नहाने  से अरूचि होने लगे या नहाने का वक्त ही न मिले।

(3) नए कपड़े खरीदने या पहनने का मौका न मिले।

(4) नए कपड़े व जूते जल्दी-जल्दी फटने लगे।

(5) घर में तेल, राई, दाले का  नुकसान होने लगे। या फैलने लगे।

(6)  हमेशा अलमारी अव्यवस्थित होने लगे।

(7) भोजन से बिना कारण अरूचि होने लगें।

(8) परिवार में पिता से अनबन होने लगे। घर में कलह और लड़ाई झगडे बढ़ना। बिना कारण के परेशानी का सामना करना।

(9) पढ़ने-लिखने से, लोगों से मिलने से उकताहट होने लगे, चिड़चिड़ाहट होने लगे।

 

ये शनि के प्रतिकूल प्रभाव है।  शनि के प्रभाव को कम करने के लिए  उपाय बताये गए है  जिसे करने से शनि का प्रभाव कम होगा।

 

शनिवार के दिन तेल के साथ काली तिल, जौ और काली उड़द, काला कपड़ा ये चीजे दान करने से लाभ होता है।

 

शनि की आराधना ‘ॐ शं शनैश्चराय नमः’से करे।

 

शनिवार को सरसो के तेल में काले तिल दाल कर शनि देव पर अर्पित करे।  तेल अर्पित के समय ॐ शं शनैश्चराय नमः’मंत्र का जाप करे।

 

इन उपाय से शनि के प्रभाव ख़त्म हो जायेंगे और शुभ फल की प्राप्ति होगी।

अधिक जानकारी के लिए आप हमारे विशेषज्ञ से सम्पर्क कर सकते है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *